Bhavishyagyan the knowledge of future

Vedic Astrology: ज्योतिष विद्या छः वेदाङ्ग विद्याओं में से एक है जिससे मानव सभ्यता को हज़ारों वर्षों से मार्गदर्शन प्राप्त होता रहा है | ज्योतिष का मुख्य सम्बन्ध ग्रहों की स्थिति और उनका मनुष्य पर पड़ने वाले प्रभाव से है |

अतः भविष्यज्ञान द्वारा दी गई सेवाओं और जानकारियों के माध्यम से आपको उचित मार्गदर्शन प्राप्त हो और जीवन लक्ष्य को प्राप्त करने के लिए महत्त्वपूर्ण सिद्ध हो |

भविष्यज्ञान का सदा ही यह प्रयास रहेगा कि आपको ज्योतिष से सम्बंधित सही और योग्य जानकारी उपलब्ध करवाई जा सके ।





Date/Time:

आज का पंचांग प्रारंभ अंत
वार
तिथि
नक्षत्र
करण
योग
राशी
चंद्र अंश
अयनांश(लाहिरी)